pati ya premi ko vash me karne ka tarika

pati ya premi ko vash me karne ka tarika

pati ya premi ko vash me karne ka tarika – अगर पति या प्रेमी पत्नी या प्रेमिका के प्रति प्यार कम हो गया हो तो श्री कृष्ण को याद कर तीन इलायची अपने बदन से छू करती शुक्रवार के दिन छिपा कर रखें। जैसे अगर साड़ी पहनती हैं तो अपने पल्लू में बाँध कर रखा जा सकता है और अन्य कपड़े पहनती हैं रूमाल में रखा जा सकता है।

पति को खुश करने का तरीका

pati ya premi ko vash me karne ka tarika – अगर चाहते हुए वैवाहिक सुख नहीं मिल पा रहा है, हमेशा पति छत्ते में किसी बात को लेकर अनबन रहती हो तो किसी भी शुक्रवार के दिन यह उपाय करें। मिट्टी की भूमिका ले जो सवा किलो मशरूम आ जाएं। मशरूम डालकर अपने सामने रखें। मियां ज़ौजा दोनों ही महामरतयजय मंत्र की तीन माला जाप करें। इसके बाद उस अधिकारी माँ भगवती के श्री चरणों में चुपचाप रखकर आ जाए। ऐसा करने से माँ भगवती की कृपा से खुश हैं जीवन हमेशा खुश रहेगा।

पति को प्यार के लिए उकसाने का उपाय

यह प्रयोग शुक्ला पार्टी करना चाहिए! एक पान का पत्ता लें! उस पर चंदन और केसर का पाउडर मिला कर रखें! फिर दुर्गा माता जी की फोटो के सामने बैठ कर दुर्गा स्तुति में से चड्डी स्रोत पाठ 43 दिन तक करें! पाठ के बाद चंदन और केसर को पान के पत्ते पर रखा था, का तिलक अपने माथे पर लगाने! और फिर तिलक लगा कर पति के सामने जांय! अगर पति वहां पर न हों तो उनकी फोटो के सामने जांय! पान का पता रोज़ नया लें कि पूरे हो कहीं से कटा फटा न हो! रोज इस्तेमाल किए गए पान के पत्ते को अलग किसी स्थान पर रखें! 43 दिन के बाद उन पान के पत्तों को पानी बह कर दें! जल्द समस्या का समाधान होगा!

झाड़ू दो सैको उल्टा – सीधा रख नीले धागे से बांध कर घर के दक्षिण – पश्चिम में रखने से वैवाहिक प्यार बढ़ेगा |

यदि आपके पति किसी और औरत पर आसक्त हैं और आप से लड़ाई-झगड़ा आदि करते हैं। तो यह प्रयोग आपके लिए बहुत प्रभावी है, हर रविवार को अपने घर और कमरे में गूगल धूनी दें। धूनी करने से पहले उस स्त्री का नाम लें और यह इच्छा कि आपके पति उसके चक्कर से जल्द ही छूट जाएं। सम्मान सम्मान के साथ करने से निशचय ही आपको लाभ मिलेगा।

ओक लगे हनुमान जी की मूर्ति का ओक लेकर सीता जी के चरणों में लगाएँ। फिर माँ सीता से एक सांस में अपनी इच्छा नवेदत कर भक्ति से प्रणाम कर वापस आ जाएं। इस तरह कुछ दिन करने पर सभी प्रकार की बाधाओं को दूर होता है