Pati ko Vash me Karne ke Totke Mantra

Pati ko Vash me Karne ke Totke Mantra- पति को वश में करने का मंत्र टोटका

Pati ko Vash me Karne ke Totke Mantra – यदि आपका पति आपसे प्रेम नहीं करता तथा आपके रिश्तो में हमेशा तकरार रहती है एवं आपका वैवाहिक जीवन पहले जैसा नहीं रहा तो उसके लिए आपको पति को वश में करने के लिए कुछ उपाय करने होंगे जिससे आपका जीवनसाथी आपकी हर बात सुनने लगेगा तथा आपके और उसके मध्य सभी तकरार समाप्त हो जाएंगे तथा जीवन की खुशियों क्या आप उपभोग करेंगे।

पति वशीकरण टोटके

यदि आपका पति आप की बात नहीं सुनता है जिस कारण घर में अशांति बनी हुई है एवं आप का व्यवहारिक मधुर संबंध अब कटु होता जा रहा है तो आपको एक छोटा सा उपाय शनिवार के दिन करना होगा इसके लिए आपको शनिवार की अर्धरात्रि में सात लौंग लेकर उस पर 21 बार अपने पति का नाम लेकर फूंक मारें और अगले रविवार को इस को आग में जला दें या प्रयोग लगातार आपको 7 दिन तक 7 बार तक करना होगा ऐसा करने से आपका पति आपके वश में हो जाएगा हम आपकी हर बात को मानने लगेगा इस प्रयोग का असर आपको एक-दो हफ्ते में ही दिखने लगेगा।

:-यदि आपके घर में आपका वैवाहिक संबंध मधुर नहीं रहा है तथा आपके पति का किसी अन्य स्त्री के साथ चक्कर है एवं जिस कारण घर में लड़ाई झगड़े होते रहते हैं तो आपको हर रविवार शाम के समय घर और शयनकक्ष में गूगल की धूनी देनी होगी धुनी करने से पहले उस स्त्री का नाम ले तथा यह कामना करें कि उसके चंगुल से आपका पति अति शीघ्र छूट जाए यह क्रिया नित्य २१ दिन तक करने से आपको इसका असर दिखेगा एवं आपका पति आपके वश में होगा।

:- आज हम आपको पति वशीकरण का एक छोटा सा उपाय बताने जा रहे हैं इसके लिए आपको शुक्ल पक्ष के पहले रविवार को प्रातः कालीन बेला में उठकर स्नान कर स्वच्छ वस्त्र धारण कर किसी पूजन स्थल पर आसन लगाकर बैठना होगा तथा एक थाली में केसर से स्वास्तिक बनाकर गंगा जल से धुली हुई मूर्ति स्थापित करनी होगा अब फूलों और बतासे आदि से उसका पूजन करना होगा पूजन में गाय के घी का दिया जलाना होगा तथा स्फटिक की माला से एक माला जप करना होगा यह जप प्रतिदिन आपको लगातार एक माह तक करना होगा ऐसा करने से आपका पति आपके वश में हो जाएगा आपकी समस्त इच्छाओं का पालन करेगा।

मंत्र

सिंहक़य मैँ वशेयमय वशेयमय कुरु कुरु स्वाहः

:- यदि आप अपने पति को अपने वश में करना चाहते हैं तथा अपने विवाहित जीवन की खुशियां को पुनः प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको भगवान श्री कृष्ण का स्मरण करते हुए तीन इलायची अपने बदन से स्पर्श कराकर शुक्रवार के दिन कहीं छुपा कर रख देना चाहिए और अगर आप साड़ी पहनती हैं तो पल्लू में बांधकर रख सकती हैं और शनिवार को सुबह इलायची को पीसकर किसी व्यंजन मिलाकर पति को खिला दे ऐसा 3 शुक्रवार करने से आपको इसका स्पष्ट फर्क नजर आने लगेगा एव आपका पति आपकी हर बात मानने लगेगा।

:- शुक्ल पक्ष के रविवार को ५ लौंग शरीर के ऐसे स्थान पर रखें जहां पसीना आता हो और उसे पीसकर चूर्ण बना लें इस चूर्ण को चाय और दूध में डालकर अपने पति को पिला दे आपका पति आपके वश में हो जाएगा तथा आपकी समस्त आज्ञा का पालन करेगा तथा आपके वैवाहिक जीवन में आ रही समस्याएं समाप्त हो जाएंगी एवं जीवन खुशियों से भर जाएगा।

पति वशीकरण मंत्र

यदि आपका पति आपकी बात नहीं सुनता जिस कारण आपके घर में अशांति है तो इसके लिए एक छोटा सा उपाय आपको करना होगा किसी ग्रहण काल में स्नान कर स्वच्छ होकर आसन लगाकर इस मंत्र को १०१ बार जपना होगा तथा गोरोचन को घिसकर इस मंत्र से ७ बार शक्ति कृत करके माथे में टिका लगाना होगा इससे आपका पति आपके वश में हो जागेगा तथा आपकी आज्ञा का पालन करेगा।

मंत्र

जन मन मंजु मुकुर मल हरनी

किए तिलक गुन गन बस करनी।

 

पति वशीकरण शाबर मंत्र

शाबर मंत्र अत्यंत शक्तिशाली वशीकरण मंत्र है इसके द्वारा आप अपने पति या पत्नी को वश में करके उन्हें अनुकूल बना सकते हैं इसका गलत प्रयोग नहीं किया जा सकता क्योंकि यह अत्यंत शक्तिशाली मंत्र है और गलत प्रयोग करने से इसके दुष्परिणाम आपको प्राप्त हो सकते हैं तथा इस मंत्र प्रयोग के पूर्व सोच विचार करना अति आवश्यक है क्योंकि यह अत्यंत कठिन साधना है।

साधना विधि

यह साधना विधि प्रारंभ करने से पहले स्वच्छ होकर लाल वस्त्र धारण कर उत्तर दिशा की ओर मुख कर गुस्सा आया कंबल का आसन लगा कर बैठ जाना चाहिए तथा चंदन की माला लेकर अपने सामने एक तेल का दीपक जलाना चाहिए । साधना काल में दीपक जलता रहना चाहिए जब तक यह मंत्र जाप चले दीपक में तेल का इस्तेमाल करें तथा अपने पास १६ किस्म के सिंगार की वस्तुएं एक लाल वस्त्र पर रख ले और ७ किस्म की मिठाई भी इसके अलावा छोटी इलायची १ इतर एवं एक पान बीड़ा अपने पास रखें वशीकरण के लिए ९ इलायची को अपने सर से ९ बार वारकर मंत्र पढ़कर खिला दे आपका कार्य पूर्ण होगा यह साधना आपको २१ दिन तक करनी होगी एवं सारी सामग्री को लाल वस्त्र पर रखकर तेल का दीपक किसी पात्र में रख लें और मंत्र जाप शुरू करें तथा सबसे पहले गणेश जी का पूजन और भैरव जी का पूजन अनिवार्य है उस दिए पर एक मिट्टी का पात्र घी लगाकर रख दें उससे जो काजल बने वह काजल तीव्र सम्मोहन वाला होता है उसके प्रयोग से किसी को भी आप सम्मोहित कर सकते हैं।

सावधानियां

यह साधना करते वक्त या ख्याल रखें कि कई बार मोहनी भयानक रूप में आपके सामने आ जाती है जिसके काले वस्त्र होते हैं और काला रंग होता है उसके ओठो में ढेर सारी सुर्खी लगी होती है आंखों में बिजली की चमक होती है ऐसी हालत पर आप डरो मत नहीं तो आपकी मेहनत बेकार हो जाएगी और उसकी आंखों में देखने का प्रयत्न करें नहीं तो आप सम्मोहित हो जाएंगे और आपकी साधना रुक जाएगी इस समय आपको बहुत धैर्य से कार्य लेना है और मंत्र जाप नहीं रुकना है तथा उससे वचन लेना है क्यों आपकी समस्त इच्छाएं पूर्ण करें एवं आप उसको मिठाई सिंगार की समान पान आदि प्रदान करेंगे तो वह खुश हो जाएगी तथा आपकी समस्त इच्छाओं को पूर्ण करेगी एवं आपका यह मंत्र सिद्ध हो जाएगा तथा आप जिस व्यक्ति को चाहेंगे उसे अपने वश में कर लेंगे।

मंत्र

मोहिनी मोहिनी मैं करं मोहिनी मेरा नामः

राजा मोहा प्रजा मोहा मोहा शहर्र ग्रामः

त्रिंजन बैठी नार मोहा चोंके बैठी कॅ

स्तर बहतर जिस गली मैं जावा सौ मित्र सौ वैरी कॉ

वाजे मन्त्र फुरे वाचं

देखा महा मोहिनी तेरे इल्म का तमाशा

पति को वश में करने के के लिए बताये गये उपाय को अमल में लाये और किसी भी तरह की समस्या हो तो तुरंत संपर्क करे | ध्यान रहे कोई भी उपाय से पहले अवश्य गुरु जी से सलाह लेवे|

We are giving Pati ko Vash me Karne ke Totke Mantra in out of India country like in Abids,  Agartala,  Agra,  Ahmedabad,  Ahmednagar,  Ajmer,  Akola,  Alibag,  Aligarh,  Allahabad,  Almora,  Alwar,  Amlapuram,  Amravati,  Amreli,  Amritsar,  Anand,  Anandpur Sahib,  Angul,  Anna Salai,  Arambagh,  arangal,  Asansol,  Aurangabad,  Ayodhya,  Badaun,  Badrinath,  Balasore,  Ballia,  Banaswara,  Bangalore,  Bankura,  Baran,  Barasat,  Bardhaman,  Bareilly,  Baripada,  Barnala,  Barrackpore,  Barwani,  Basti,  Beawar,  Beed,  Bellary,  Bettiah,  Bhadohi,  Bhadrak,  Bhagalpur,  Bharatpur,  Bharuch,  Bhavnagar,  Bhilai,  Bhilwara,  Bhind,  Bhiwani,  Bhopal,  Bhubaneshwar,  Bhuj,  Bidar,  Bijapur,  Bijnor,  Bikaner,  Bilaspur,  Bilimora,  Bodh Gaya,  Bokaro,  Bundi,  Burhanpur,  Buxur,  Calangute,  Chamba,  Chandauli,  Chandigarh,  Chandrapur,  Chennai,  Chhapra,  Chhindwara,  Chidambaram,  Chiplun,  Chitradurga,  Chittaurgarh,  Chittoor,  Churu,  Coimbatore,  Cooch Behar,  Cuddapah,  Cuttack,  Dahod,  Dalhousie,  Davangere,  Dehradun,  Dehri,  Delhi,  Deoria,  Dewas,  Dhanbad,  Dharamshala,  Dholpur,  Didwana,  Dispur,  Diu Island,  Durgapur,  Dwarka,  Ernakulam,  Erode,  Etah,  Etawah,  Faizabad,  Faridabad,  Ferozpur,  Gandhinagar,  Gangapur,  Gangtok,  GariaGaya,  Ghaziabad,  GodhraGokul,  Gonda,  Gorakhpur,  Greater Mumbai,  Greater Noida,  Gulbarga,  Gulmarg,  Guna,  Guntur,  Gurgaon,  Guwahati,  Gwalior,  Haflong,  Hajipur,  Haldia,  Haldwani,  Hampi,  Hanumangarh,  Hapur,  Hardoi,  Haridwar,  Hubli,  Hyderabad,  Imphal,  Indore,  Itanagar,  Itarsi,  Jabalpur,  Jagadhri,  Jaipur,  Jaisalmer,  Jalandhar,  Jalna,  Jalore,  Jamalpur,  Jammu,  Jamshedpur,  Jaunpur,  Jhajjar,  Jhalawar,  Jhansi,  Jodhpur,  Junagadh,  Kanchipuram,  Kangra,  Kanpur,  Kanyakumari,  Kapurthala,  Karaikudi,  Karnal,  Kasauli,  Katihar,  Katni,  Khajuraho,  Khandala,  Khandwa,  khargone,  Kishanganj,  KishangarhKochi,  Kodaikanal,  Kohima,  Kolhapur,  Kolkata,  Kollam,  Kota,  Kottayam,  Kovalam,  Kozhikode,  Kumarakom,  Kumbakonam,  Kurukshetra,  Lalitpur,  Latur,  Lavasa,  Laxmangarh,  Leh,  Lucknow,  Ludhiana,  Madikeri,  Madurai,  Mahabaleshwar,  Mahabalipuram,  Mahbubnagar,  Malegaon,  Manali,  Mandu Fort,  Mangalore,  Manipal,  Margoa,  Mathura,  Meerut,  Mirzapur,  Mohali,  Mokokchung,  Moradabad,  Morena,  Motihari,  Mount Abu,  Muktsar,  Mumbai,  Munger,  Munnar,  Mussoorie,  Muzaffarnagar,  Mysore,  Nagaon,  Nagercoil,  Nagpur,  Naharlagun,  Naihati,  Nainital,  Nalgonda,  Namakkal,  Nanded,  Narnaul,  Nasik,  Nathdwara,  Navsari,  Neemuch,  Noida,  Ooty,  Orchha,  Palakkad,  Palanpur,  Pali,  Palwal,  Panaji,  Panchkula,  Pandharpur,  Panipat,  Panvel,  Pathanamthitta,  Patna,  Patna Sahib,  Periyar,  Phagwara,  Pilibhit,  Pinjaur,  Pollachi,  Pondicherry,  Ponnani,  Porbandar,  Port Blair,  Porur,  Pudukkottai,  Punalur,  Pune,  Puri,  Purnia,  Pushkar,  Raipur,  Rajahmundry,  Rajkot,  Rameswaram,  Ranchi,  Ratlam,  Raxual,  Rewa,  Rewari,  Rishikesh,  Rourkela,  Sagar,  Saharanpur,  Salem,  Salt Lake,  Samastipur,  Sambalpur,  Sambhal,  Sanchi,  Sangareddy,  Sangli,  Sangrur,  Sarnath,  Sasaram,  Satara,  Satna,  Secunderabad,  Sehore,  Serampore,  Shillong,  Shimla,  Shirdi,  ShivaGanga,  Shivpuri,  Sikar,  Silvassa,  Singrauli,  Sirhind,  Sirsa,  Sitamrahi,  Siwan,  Somnath,  Sonipat,  Sopore,  Srikakulam,  Srinagar,  Sriranga pattna,  Sultanpur,  Surat,  Surendranagar,  Suri,  Tawang,  Tezpur,  Thalassery,  Thanjavur,  Thekkady,  Theni,  Thiruvananthpuram,  Thiruvannamalai,  Thrippunithura,  Thrissur,  Tiruchchirappalli,  Tirumala,  Tirunelveli,  Tirupati,  Tirur,  Trichy,  Trippur,  Tumkur,  Tuni,  Udaipur,  Udhampur,  Udupi,  Ujjain,  Ujjain Fort,  Unnao,  Vadodra,  Valsad,  Vapi,  Varanasi,  Varkala,  Vasco da ama,  Vellore,  Vidisha,  Vijayawada,  Vishakhapatnam,  Vizianagaram,  Vrindavan,  Washim,  Yamunanagar,  Yelahanka

 

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s