Durga Vashikaran Mantra to Attract Husband Love

Durga Vashikaran Mantra to Attract Husband Love/दुर्गा पति वशीकरण मंत्र

Durga Vashikaran Mantra to Attract Husband Love – दुर्गा वशीकरण मंत्र अर्थ सम्मोहन मंत्र द्वारा किसी भी व्यक्ति को अपने वश में किया जा सकता है इसका प्रयोग स्त्रियां अपने पतियों को वश में करने के लिए कर सकती हैं या वशीकरण मंत्र अचूक प्रभाव देने वाला है एवं या मंत्र अत्यंत सरल है कुछ विधि-विधानों के साथ कुछ तांत्रिक किराए भी इस में प्रयोग लाई जाती हैं एवं इसके प्रयोग से स्वभाव आचरण या व्यवहार में अनियंत्रित हो चुके व्यक्ति को नियंत्रित करने के लिए उपयोगी है तथा रूठे व्यक्ति को मनाना उसको अपने वश में करना भटके हुए परिवार के सदस्यों में लाना प्रेम संबंधों में मधुरता आदि इस मंत्र द्वारा संभव है।

दुर्गा वशीकरण प्रयोग :-

यह प्रयोग करने से पहले स्नान कर स्वच्छ होकर आसन लगाकर भगवती त्रिपुर सुंदरी महामाया महादेवी दुर्गा का ध्यान किया जाता है ध्यान में पूरी तरह श्रद्धा-भक्ति के साथ पंचोंप्रकार विधि से पूजन की जाती है तथा मां के सामने अपनी मनोकामना की इच्छा व्यक्त की जाती है जिस पर वशीकरण का प्रयोग करना है उस व्यक्ति का नाम लेते हुए १०८ बार मंत्र का जाप किया जाता है इस अनुष्ठान के समय लाल रंग का प्रयोग महत्वपूर्ण है इस संदर्भ में यह कहा जाता है कि आपका आसन भी लाल होना चाहिए एवं फूल भी तथा जप करने वाली चंदन की माला भी लाल होनी चाहिए।

सावधानियां-:

:- इस विधि का प्रयोग करने से पहले मन को एकाग्र एवं शरीर को स्वच्छ तथा नए वस्त्र धारण करना अनिवार्य है

:- इस वशीकरण विधि में मुख्यता लाल रंग का ही प्रयोग किया जाता है तभी यह उचित फल प्रदान करता है

:- इसका प्रयोग किसी अनैतिक कार्य या किसी व्यक्ति को हानि पहुंचाने के लिए नहीं करना चाहिए नहीं तो यह आपके लिए दुष्टगामी परिणाम प्रदान करने वाला होता है

मंत्र:-

ज्ञानिनापि चेतांसि देवी भगवती ही सा।

बलादकृष्यमोहाय महामाया ब्रा प्रयच्छति।।

दुर्गा सप्तशती वशीकरण मंत्र

दुर्गा सप्तशती वशीकरण मंत्र अत्यंत प्रभावशाली वशीकरण मंत्रों में सम्मिलित है इस बीज मंत्र से लगभग ७०० प्रयोग किए जा सकते हैं इसमें मोहन उच्चाटन ,स्तंभन ,वशीकरण आदि इसमें पर वर्णित कवच का बीच अग्ला को शक्ति और किलक को किलक कहा गया। इस बीज मंत्र में अपार शक्ति समाहित है इसके द्वारा हर बाधाएं दूर होती हैं तथा समस्त दोषों से छुटकारा मिलता है जीवन सुख में होता है तथा सिद्धियां भी प्राप्त होती है एवं किसी को भी अपने वश में करके उच्चतम वशीकरण इन मंत्रों के द्वारा किया जा सकता है

साधना:-

यह साधना तीव्र मनोकामना पूर्ति के साथ-साथ आंतरिक शक्ति भी प्रदान करती है इस साधना के द्वारा मां दुर्गा को प्रसन्न कर धर्म अर्थ काम मोक्ष की प्राप्ति की जा सकती है इसके लिए सर्वप्रथम स्वच्छ होकर स्नान कर लाल वस्त्र धारण कर मां दुर्गा की तस्वीर के आगे आसन लगाकर बैठना चाहिए एवं माता रानी का ध्यान करते हुए मंत्रों का १०८ बार जप करना चाहिए एवं लाल फूल लाल मिठाई लाल चंदन का प्रयोग करना चाहिए तथा स्वयं को लाल चंदन का टीका लगाना चाहिए इसके अतिरिक्त दुर्गा सिद्ध मंत्र ओम दुर्गाय नमः १०८ बार जाप कर अपनी इच्छा मां दुर्गा के सामने रखनी चाहिए ऐसा प्रतिदिन 27 दिन करने से आपकी मनोछाएं पूर्ण होती हैं एवं इच्छित व्यक्ति आपके वश में होकर आपके समस्त कार्य करता है।

सावधानियां

इन मंत्रों का प्रयोग किसी को हानि पहुंचाने के लिए नहीं करना चाहिए अन्यथा आप को इसका दुष्परिणाम प्राप्त हो सकता है एवं पूजन करते समय आपका मन सात्विक होना चाहिए तथा जब तक यह पूजन चले तब तक किसी प्रकार के संबंध नहीं स्थापित करने चाहिए।

दुर्गा सप्तशती बीज मंत्र-:

म़ं चण्डी मधुकैटभादिदैतयदलनी या माहिषोन्मूलिनी,

म़ं धुम्रेक्षणचण्डमुण्ड मथनी या रक्तबीजनशनी।

शशक्ति शुम्भनिशुम्भ दैयदलनी या सिद्धिददात्री परा,

सा देवी नवकोटिमूर्तसहिता मां पातु विश्वेश्वरी।।

 

दुर्गा तीव्र साधना मंत्र :-

ऊँ ऐं ह्रीं क्लीं चामुण्डाययै विच्चे।

ऊँ गग्लौं हूं क्लीं जूं सः

ज्वालय-ज्वालय, ज्वल-ज्वल प्रज्ज्वल-प्रज्ज्वल

ऐं ह्रीं क्लीं चमुण्डायै विच्चे, ज्वल हं सं लं क्षं फट स्वाहृ।

दुर्गा मोहिनी वशीकरण

मोहनी वशीकरण साबर मंत्र काफी असरदायक होता है इसका प्रयोग रविवार को उपयुक्त माना जाता है तथा इसके द्वारा पति-पत्नी में आपसी मनमुटाव दूर करना । समस्याओं को दूर करना है स्त्री-पुरुषों दोनों के द्वारा यह किया जा सकता है तथा इस मोहनी वशीकरण के अत्यंत खास रहस्य है इसके द्वारा बताए गए उपायों को करने से प्रेम में सफलता एवं जीवन में सुख शांति का प्रभाव निरंतर बना रहता है

मोहिनी वशीकरण प्रयोग विधि :-

मोहनी वशीकरण साबर मंत्र अत्यंत शक्तिशाली वशीकरण मंत्र होता है इसका प्रयोग रविवार को उपयुक्त माना गया है तथा किसी एकांत कमरे या एकांत स्थान पर बैठकर स्वच्छ होकर करना चाहिए एवं उत्तर दिशा की ओर लाल रंग के आसन को बिछाकर मंत्र प्रयोग प्रारंभ करना चाहिए । इस प्रयोग के लिए रात्रि 12: 00 बजे का समय उपयुक्त माना गया है साधना लिए आवश्यक सामग्री लौंग, गुगल अगरबत्ती दीपक सरसों का तेल 5 गुलाब के फूल और पांच किस्म की मिठाई है सर्वप्रथम आसन लगाकर बैठे तथा फूल लौंग और मिठाई रखें और सरसों के तेल का दीपक जलाएं तथा उसमें लोबान की अगरबत्ती जलाई जाती है पूजन के साधारण तरीके से आप उत्तम वशीकरण कर सकते हैं कथा इसमें पूजन प्रारंभ करने के पूर्व 41 बार साबर मंत्र का जाप करें और जिसको आप वश में करना चाहते हैं उसका नाम लेकर लौंग में प्रत्येक मंत्र के अंत में फूंक मारें फिर लौंग को संभाल कर रख दें जबकि फूल और मिठाई को नदी में प्रवाहित कर दें यह प्रक्रिया 7 दिनों तक दोहराई जाती है और प्रतिदिन ताजे फूल मिठाई तथा उपयुक्त सामग्री का उपयोग किया जाता है सातो दिन प्रयोग के बाद संभाल के रखी गई लौंग वशीकरण करने हेतु उपयुक्त हो जाती है इस लौंग को आप जिस भी व्यक्ति को देंगे वाह वशीकरण वह आपके वश में हो जाएगा एवं आपके सभी कार्यों को पूर्ण करेगा इसका प्रयोग हर क्षेत्र में कारगर साबित हुआ है।

मंत्र

तेल-तेल महातेल! दूखूं री मोहिनी तेरा खेल।

लौंग, लौंगा, लौंगा! बैर एक लौंग मेरी आती-पाती

दूसरी लौंग दिखाए छाती, रूठे को मना लाए, बैठे को उठा लाए

सोए को जगा लाए, चलते-फिरते को लिवा लाए

आकाश जोगनी, पताल का सिद्ध।

(वश करने वाले का नाम) को लाग लाग री मोहिनी, तुझे भैरों की आन।

दुर्गा वशीकरण मंत्र फॉर हस्बैंड/पति के प्यार पाने के लिए प्रयोग किया जा सकता है| इसका प्रयोग अपने पति को काबू में करने के लिए किया जा सकता है| किसी भी प्रकार की तांत्रिक क्रिया के लिए तांत्रिक गुरु जी से अवश्य परामर्श करे|

We are giving Durga Vashikaran Mantra to Attract Husband Love in out of India country like in Abids,  Agartala,  Agra,  Ahmedabad,  Ahmednagar,  Ajmer,  Akola,  Alibag,  Aligarh,  Allahabad,  Almora,  Alwar,  Amlapuram,  Amravati,  Amreli,  Amritsar,  Anand,  Anandpur Sahib,  Angul,  Anna Salai,  Arambagh,  arangal,  Asansol,  Aurangabad,  Ayodhya,  Badaun,  Badrinath,  Balasore,  Ballia,  Banaswara,  Bangalore,  Bankura,  Baran,  Barasat,  Bardhaman,  Bareilly,  Baripada,  Barnala,  Barrackpore,  Barwani,  Basti,  Beawar,  Beed,  Bellary,  Bettiah,  Bhadohi,  Bhadrak,  Bhagalpur,  Bharatpur,  Bharuch,  Bhavnagar,  Bhilai,  Bhilwara,  Bhind,  Bhiwani,  Bhopal,  Bhubaneshwar,  Bhuj,  Bidar,  Bijapur,  Bijnor,  Bikaner,  Bilaspur,  Bilimora,  Bodh Gaya,  Bokaro,  Bundi,  Burhanpur,  Buxur,  Calangute,  Chamba,  Chandauli,  Chandigarh,  Chandrapur,  Chennai,  Chhapra,  Chhindwara,  Chidambaram,  Chiplun,  Chitradurga,  Chittaurgarh,  Chittoor,  Churu,  Coimbatore,  Cooch Behar,  Cuddapah,  Cuttack,  Dahod,  Dalhousie,  Davangere,  Dehradun,  Dehri,  Delhi,  Deoria,  Dewas,  Dhanbad,  Dharamshala,  Dholpur,  Didwana,  Dispur,  Diu Island,  Durgapur,  Dwarka,  Ernakulam,  Erode,  Etah,  Etawah,  Faizabad,  Faridabad,  Ferozpur,  Gandhinagar,  Gangapur,  Gangtok,  GariaGaya,  Ghaziabad,  GodhraGokul,  Gonda,  Gorakhpur,  Greater Mumbai,  Greater Noida,  Gulbarga,  Gulmarg,  Guna,  Guntur,  Gurgaon,  Guwahati,  Gwalior,  Haflong,  Hajipur,  Haldia,  Haldwani,  Hampi,  Hanumangarh,  Hapur,  Hardoi,  Haridwar,  Hubli,  Hyderabad,  Imphal,  Indore,  Itanagar,  Itarsi,  Jabalpur,  Jagadhri,  Jaipur,  Jaisalmer,  Jalandhar,  Jalna,  Jalore,  Jamalpur,  Jammu,  Jamshedpur,  Jaunpur,  Jhajjar,  Jhalawar,  Jhansi,  Jodhpur,  Junagadh,  Kanchipuram,  Kangra,  Kanpur,  Kanyakumari,  Kapurthala,  Karaikudi,  Karnal,  Kasauli,  Katihar,  Katni,  Khajuraho,  Khandala,  Khandwa,  khargone,  Kishanganj,  KishangarhKochi,  Kodaikanal,  Kohima,  Kolhapur,  Kolkata,  Kollam,  Kota,  Kottayam,  Kovalam,  Kozhikode,  Kumarakom,  Kumbakonam,  Kurukshetra,  Lalitpur,  Latur,  Lavasa,  Laxmangarh,  Leh,  Lucknow,  Ludhiana,  Madikeri,  Madurai,  Mahabaleshwar,  Mahabalipuram,  Mahbubnagar,  Malegaon,  Manali,  Mandu Fort,  Mangalore,  Manipal,  Margoa,  Mathura,  Meerut,  Mirzapur,  Mohali,  Mokokchung,  Moradabad,  Morena,  Motihari,  Mount Abu,  Muktsar,  Mumbai,  Munger,  Munnar,  Mussoorie,  Muzaffarnagar,  Mysore,  Nagaon,  Nagercoil,  Nagpur,  Naharlagun,  Naihati,  Nainital,  Nalgonda,  Namakkal,  Nanded,  Narnaul,  Nasik,  Nathdwara,  Navsari,  Neemuch,  Noida,  Ooty,  Orchha,  Palakkad,  Palanpur,  Pali,  Palwal,  Panaji,  Panchkula,  Pandharpur,  Panipat,  Panvel,  Pathanamthitta,  Patna,  Patna Sahib,  Periyar,  Phagwara,  Pilibhit,  Pinjaur,  Pollachi,  Pondicherry,  Ponnani,  Porbandar,  Port Blair,  Porur,  Pudukkottai,  Punalur,  Pune,  Puri,  Purnia,  Pushkar,  Raipur,  Rajahmundry,  Rajkot,  Rameswaram,  Ranchi,  Ratlam,  Raxual,  Rewa,  Rewari,  Rishikesh,  Rourkela,  Sagar,  Saharanpur,  Salem,  Salt Lake,  Samastipur,  Sambalpur,  Sambhal,  Sanchi,  Sangareddy,  Sangli,  Sangrur,  Sarnath,  Sasaram,  Satara,  Satna,  Secunderabad,  Sehore,  Serampore,  Shillong,  Shimla,  Shirdi,  ShivaGanga,  Shivpuri,  Sikar,  Silvassa,  Singrauli,  Sirhind,  Sirsa,  Sitamrahi,  Siwan,  Somnath,  Sonipat,  Sopore,  Srikakulam,  Srinagar,  Sriranga pattna,  Sultanpur,  Surat,  Surendranagar,  Suri,  Tawang,  Tezpur,  Thalassery,  Thanjavur,  Thekkady,  Theni,  Thiruvananthpuram,  Thiruvannamalai,  Thrippunithura,  Thrissur,  Tiruchchirappalli,  Tirumala,  Tirunelveli,  Tirupati,  Tirur,  Trichy,  Trippur,  Tumkur,  Tuni,  Udaipur,  Udhampur,  Udupi,  Ujjain,  Ujjain Fort,  Unnao,  Vadodra,  Valsad,  Vapi,  Varanasi,  Varkala,  Vasco da ama,  Vellore,  Vidisha,  Vijayawada,  Vishakhapatnam,  Vizianagaram,  Vrindavan,  Washim,  Yamunanagar,  Yelahanka

 

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s